वास्तु टिप्स : घर में भगवान हनुमानजी के चित्र कहां और किस प्रकार के लगाएं

0
156
हनुमानजी का चित्र

वास्तु टिप्स : घर में भगवान हनुमानजी के चित्र कहां और किस प्रकार के लगाएं

जिस घर में भगवान हनुमानजी का चित्र होता है, वहां मंगल, शनि, पितृ और भूतादि का दोष नहीं रहता।

भगवान हनुमानजी के भक्त हैं तो घर में भगवान हनुमानजी के चित्र कहां और किस प्रकार के लगाएं यह जानना जरूरी है।

आइए जानते हैं भगवान श्रीहनुमानजी के चित्र लगाने के कुछ नियम —

किस दिशा में लगाएं भगवान हनुमानजी का चित्र

वास्तु के अनुसार भगवान हनुमानजी का चित्र हमेशा दक्षिण दिशा की ओर देखते हुए लगाना चाहिए। यह चित्र बैठी मुद्रा में लाल रंग का होना चाहिए। दक्षिण दिशा की ओर मुख करके भगवान हनुमानजी का चित्र इसलिए अधिक शुभ है क्योंकि भगवान हनुमानजी ने अपना प्रभाव सर्वाधिक इसी दिशा में दिखाया है। भगवान हनुमानजी का चित्र लगाने पर दक्षिण दिशा से आने वाली हर बुरी ताकत भगवान हनुमानजी का चित्र देखकर लौट जाती है। इससे घर में सुख और समृद्धि बढ़ती है।

शयनकक्ष में न लगाएं भगवान हनुमानजी का चित्र

शास्त्रों के अनुसार भगवान हनुमानजी बाल ब्रह्मचारी हैं और इसी वजह से उनका चित्र शयनकक्ष में न रखकर घर के मंदिर में या किसी अन्य पवित्र स्थान पर रखना शुभ रहता है। शयनकक्ष में रखना अशुभ है।

भूत, प्रेत आदि से बचने हेतु

यदि आपको लगता है कि आपके घर पर नकारात्मक शक्तियों का असर है तो आप भगवान हनुमानजी का शक्ति प्रदर्शन की मुद्रा में चित्र लगाएं। आप चाहे तो पंचमुखी भगवान हनुमानजी का चित्र मुख्य द्वार के ऊपर लगा सकते हैं या ऐसी जगह लगाएं जहां से यह सभी को नजर आए। ऐसा करने से घर में किसी भी तरह की बुरी शक्ति प्रवेश नहीं करेगी।

पंचमुखी भगवान हनुमानजी

वास्तु विज्ञान के अनुसार पंचमुखी भगवान हनुमानजी की मूर्ति जिस घर में होती है, वहां उन्नति के मार्ग में आने वाली बाधाएं दूर होती हैं और धन संपत्ति में वृद्घि होती है।

जलस्रोत दोष

यदि भवन में गलत दिशा में कोई भी जल स्रोत हो तो इस वास्तु दोष के कारण परिवार में शत्रु बाधा, बीमारी व मन मुटाव देखने को मिलता है। इस दोष को दूर करने के लिए उस भवन में ऐसे पंचमुखी भगवान हनुमानजी का चित्र लगाना चाहिए। जिनका मुख उस जल स्रोत की ओर देखते हुए दक्षिण पाश्चिम दिशा की तरफ हो।

बैठक में लगाएं भगवान हनुमान जी का यह स्वरूप

घर की बैठक में आप प्रभु श्रीरामजी दरबार का फोटो लगाएं, जहां भगवान हनुमानजी प्रभु श्रीरामजी के चरणों में बैठे हुए हैं। इसके अलावा बैठक में पंचमुखी भगवान हनुमानजी का चित्र, पर्वत उठाते हुए का चित्र या प्रभु श्रीरामजी का भजन करते हुए भगवान हनुमानजी का चित्र लगा सकते हैं। ध्यान रखें कि उपरोक्त में से कोई एक चित्र लगा सकते हैं।

पर्वत उठाते हुए भगवान हनुमान का चित्र

यदि यह चित्र आपके घर में है तो आपमें साहस, बल, विश्वास और जिम्मेदारी का विकास होगा। आप किसी भी परिस्थिति से घबराएंगे नहीं। हर परिस्थिति आपके समक्ष आपको छोटी नजर आएगी और तुरंत ही उसका समाधान हो जाएगा।

उड़ते हुए भगवान हनुमानजी

यदि यह चित्र आपके घर में है तो आपकी उन्नति, तरक्की और सफलता को कोई रोक नहीं सकता। आपमें आगे बढ़ने के प्रति उत्साह और साहस का संचार होगा। निरंतर आप सफलता के मार्ग पर बढ़ते जाएंगे।

प्रभु श्रीरामजी का भजन करते हुए भगवान हनुमानजी

यदि यह चित्र आपके घर में है तो आपमें भक्ति और विश्वास का संचार होगा। यह भक्ति और विश्वास ही आपके जीवन की सफलता का आधार है।

भगवान हनुमानजी के चित्र के पास मंगलवार शनिवार हनुमान चालीसा और सुंदरकांड करे/या/ बजाये। शीघ्र शुभ फल मिलता है

No votes yet.
Please wait...
Voting is currently disabled, data maintenance in progress.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here